आलेख

माफिया राज्यों और क्लेप्टोक्रेसी (भ्रष्ट सरकारों) पर खोजी खबरें कैसे करें : एक साक्षात्कार

इस लेख को पढ़ें

 

यूएन ऑफिस ऑफ़ ड्रग्स एंड क्राइम द्वारा चार्टर्ड आपराधिक नेटवर्क। क्या होता है जब सभी देश समस्या का हिस्सा होते हैं? छवि: UNODC:   

संपादकीय टिप्पणी:  ग्लोबल इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज़्म नेटवर्क, पत्रकारों के लिए संगठित अपराध की जांच करने एक वैश्विक गाइड तैयार कर रहा है। दुनिया के कुछ शीर्ष क्राइम रिपोर्टरों द्वारा तैयार इस हैंडबुक में 10 अध्याय हैं। ये अध्याय, वित्तीय अपराध, नशीले पदार्थों, प्राचीन वस्तुओं की तस्करी, मानव तस्करी, साइबर अपराध और पर्यावरण अपराध जैसे अलग-अलग विषयों पर केंद्रित हैं। इसके पहले हमने दो बार के पुलित्जर पुरस्कार विजेता मार्था मेंडोज़ा द्वारा, आर्गनाइज्ड क्राइम एंड करप्शन रिपोर्टिंग प्रोजेक्ट  (OCCRP) और मानव तस्करी पर पॉल राडू द्वारा वित्त अपराध पर तैयार किए हैं। शेष अध्याय और संगठित अपराध पर संपूर्ण नियमावली जीआईजेएन के वैश्विक खोजी पत्रकारिता सम्मेलन में जारी होगी। यह वैश्विक सम्मेलन आगामी 1-5 नवंबर को आयोजित होगा।

इन अध्यायों में से एक, माफिया राज्य पर केंद्रित है। माफ़िया राज्य वे देश हैं जो अनिवार्य रूप से एक आपराधिक समूह या संघ के रूप में काम करते हैं। ये राज्य के मामलों को आपराधिक सिंडिकेट या रैकेट के रूप में चलाते हैं। इस विषय को समझने के लिए हमने GIJN  के कार्यकारी निदेशक डेविड ई कपलान को OCCRP के सह-संस्थापक, अनुभवी संपादक और रिपोर्टर ड्रू सुलिवन का साक्षात्कार करने के लिए कहा। कापलान अपराध और भ्रष्टाचार पर 30 से अधिक वर्षों से लिख रहे हैं। वह अंतर्राष्ट्रीय अपराध पर तीन पुस्तकों के लेखक हैं, जिनमें “याकुज़ा” भी शामिल है, जिसे व्यापक रूप से जापानी माफिया पर स्थापित कार्य माना जाता है। सुलिवन OCCRP के प्रकाशक हैं, उनके नेतृत्व में पूर्व कम्युनिस्ट देशों और दुनिया भर में संगठित अपराध को उजागर करने के लिए महत्वपूर्ण कार्य किया है। 2005 में OCCRP की शुरूआत के बाद से, इसकी खबरों ने 7.3  अरब डॉलर के जुर्माने और धन जब्ती, 100 से अधिक इस्तीफे-बर्खास्तगी, अभियोग और सैकड़ों गिरफ्तारियां करने में मदद की है।

सुलिवन के साथ साक्षात्कार लंबा चला – इस दौरान पता चला कि दोनों पत्रकारों के पास इस विषय पर कहने के लिए बहुत कुछ था। इसलिए हम यहां अपराध गाइड में दिखाई देने वाले संस्करण की तुलना में एक लंबा संस्करण चला रहे हैं। बातचीत माफिया राज्यों और आपराधिक गठजोड़ से लेकर कॉर्पोरेट अपराध तक तथा उन उपकरणों पर एक नज़र के साथ समाप्त होती है, जिनकी हम पत्रकारों को जांच करने की आवश्यकता है। आज लोकतंत्र को बचाने के लिए खोजी पत्रकारिता और उसको करने के लिए उपकरणों की बहुत आवश्यकता है । हमें बतायें आप क्या सोचते हैं।

डेविड कपलान: 2012 से OCCRP ने एक अलग तरह का पुरस्कार स्थापित किया जो उस शासक को दिया जाता है जिसकी कार्यशैली में संगठित अपराध और भ्रष्टाचार का उपयोग करके शासन चलाना होता है। इस तथाकथित पुरस्कार को “पर्सन ऑफ द ईयर” का नाम दिया गया है। यदि आप इसके विजेताओं द्वारा शासित देशों की गिनती करते हैं, तो यह मानवता का महज 10% ही है। एक शासन के तरीक़े के रूप में यह कितना प्रचलित है? दुनिया में 195 देश हैं, उनमें से कितनों को हम माफिया राज्य कह सकते हैं?

ड्रू सुलिवन: माफिया राज्य बहुत कम ही हैं। यदि आप भ्रष्ट गठजोड़ की सरकारों (क्लेप्टोक्रेसी) की बात करते हैं तो वह ज़रूर बहुत हैं।

डेविड कपलान: क्लेप्टोक्रेसीज़ – दूसरे शब्दों में कहें तो चोरी पर आधारित सरकार या भ्रष्ट गठजोड़ की सरकार।

ड्रू सुलिवन: हाँ, यह काफी हद तक एक जैसे ही हैं। ढेर सारी भ्रष्ट सरकारें हैं। दुर्भाग्य से, विकासशील दुनिया में यह बहुतायत में हैं। माफिया राज्य अपेक्षाकृत कम हैं। इस अर्थ में सम्भवतः छह या सात ही हैं, जिनका मूल रूप से मिशन माफिया जैसा संगठन होना है। उनका इरादा आपराधिक हितों को आगे बढ़ाने के लिए राज्य को एक आपराधिक उपक्रम के रूप में संचालित करना है।

बड़े माफिया राज्यों में कोसोवो, मोंटेनेग्रो, इक्वेटोरियल गिनी, मेक्सिको माल्टा शायद ज्यादा करीब हैं। आप तर्क दे सकते हैं कि रूस एक माफिया राज्य है – हालाँकि रूस का शायद अपना ही एक अलग वर्ग है।

डेविड कपलान: अफगानिस्तान के बारे में क्या कहेगे? यह एक ऐसा देश है जो अब आतंकवादी के रूप में ब्रांडेड एक समूह द्वारा नियंत्रित है, जो एक प्रमुख हथियार डीलर, हेरोइन आपूर्तिकर्ता, सब तरफ से अनियंत्रित देश बनने की ओर बढ़ रहा है।

ड्रू सुलिवन: मैं इसे माफिया राज्य नहीं कहूंगा क्योंकि प्रमुख समूह तो तालिबान हैं, जो एक प्रकार का धार्मिक हितों का गठबंधन है जिसमें ISIS व कुछ सरदार हैं। तालिबान अफीम के नकदी फसल के रूप में उपयोग के बारे में विख्यात है। उनके पास व्यापार मार्ग मौजूद हैं और उनकी अंतरराष्ट्रीय बाजारों में जरा भी दिलचस्पी नहीं है, इसलिए अफ़ीम आसान है। इसे तो बेचा जाएगा। उनका मकसद ड्रग डीलर बनना नहीं है क्योंकि इस तरह का मुनाफा हमेशा कानून के शासन के लिए एक खतरा होगा.

डेविड कपलान: तथा वेनेज़ुएला?

ड्रू सुलिवन: वेनेज़ुएला ज़रूर माफिया राज्य है, क्योंकि वे अब सरकार चलाने में रुचि नहीं रखते हैं। वहां राजनीतिक अभिजात्य वर्ग व सेना अपनी ताक़त, देश की सुरक्षा या शिक्षा के सुधार में नहीं बल्कि सीमापार नशीली दवाओं के सौदों को करने में लगाते हैं।

अज़रबैजान में एक भ्रष्ट सरकार है। वहां एक भयावह, निरंकुश सरकार है। वे लोगों का दमन करते हैं, चोरी किए जाने वाले अधिकांश पैसे का उपयोग अन्य लोगों को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है, ताकि वे शासक परिवार के लिए जोखिम पैदा न कर सकें। वे सब कुछ चुरा लेते हैं, इसलिए नहीं कि उन्हें अधिक धन की आवश्यकता है। वे नहीं चाहते कि किसी और के पास उनके खिलाफ विरोध करने पर्याप्त धन हो।

डेविड कपलान: यह एक विशिष्ट अंतर है … जब आप देखते हैं कि अमेरिकी एजेंसियाँ, संगठित अपराध को रोकने को जाती हैं, तो वे एंटी-रैकेटियरिंग कानून के तहत एक मामला बनाते हैं जो समूह को “निरंतर आपराधिक उद्यम” के रूप में इंगित करता है। लेकिन अगर हम वास्तव में उस परिभाषा को लागू करते हैं, तो हम दुनिया के बहुत से लोगों को दोषी ठहरा सकते हैं।

ड्रू सुलिवन: हाँ, बिल्कुल।

डेविड कपलान: तो यह एक मापदंड है, है ना? हम एक भ्रष्ट दुनिया में रहते हैं जहां सालाना खरबों डॉलर अवैध रूप से हाथ बदल रहे हैं।

ड्रू सुलिवन: बिल्कुल। और एक बड़ी प्रवृत्ति जो आप अभी देख रहे हैं वह यह है कि लोग भ्रष्टाचार को वैध कर रहे हैं। इसलिए हमने रोमानियाई संसद को OCCRP के पर्सन ऑफ द ईयर के रूप में वोट दिया, क्योंकि वे अनिवार्य रूप से यह कहना चाहते थे कि अपराधी होना ठीक है। जब तक आप सांसद रहते हैं, आप पर कुछ भी आरोप नहीं लगाया जा सकता है। और यह रूस जैसी जगहों पर सच है, जहां ड्यूमा के सदस्यों पर किसी भी अपराध का आरोप नहीं लगाया जा सकता है। यह बहुत बुरा संकेत है।

डेविड कपलान: तो हम उन मुट्ठी भर देशों के बारे में बात कर रहे हैं जो सम्पूर्ण माफिया राज्य हैं – वे ठग हैं, वे आपराधिक उपक्रम हैं, वे रैकेट पर आधारित हैं। इन तत्वों के हर काम में हिंसा का सहारा लिया जाता है। मतलब उनके पूरे गुण वही हैं जिन्हें हम माफिया के रूप में समझते हैं। यह एक छोर है और दूसरे छोर पर यह क्लेप्टोक्रेसी वाली सरकारें हैं जहां सत्ता भ्रष्ट तरीक़ों से धन कमाने के काम आती है,  इसमें स्कैंडिनेविया और सिंगापुर को छोड़कर लगभग हर कोई शामिल है?

ड्रू सुलिवन: यह हर जगह है जहां भी एक मजबूत लोकतंत्र नहीं है। इंडोनेशिया को ही लें – अधिकांश उद्योग पर सेना का नियंत्रण है, वे कानून बदलते हैं, वे अभियोजन से बचते हैं। क्या यह एक क्लेप्टोक्रेसी है? हां, आंशिक रूप से, लेकिन यहां अभी भी आंशिक रूप से लोकतंत्र है। आपके बीच में ऐसे कुछ देश हैं। लेकिन कई अन्य सिर्फ शुद्ध क्लेप्टोक्रेसी हैं – उदाहरण के लिए, अधिकांश अफ्रीका निरंकुश है। वोटों में हेरफेर किया जाता है, लोगों को वोट के बदले पैसे दिए जाते हैं। यह एक तरह की अवैध संरक्षण देने वाली प्रणाली है।

डेविड कपलान: हम पत्रकारों को उनके देश को समझने के लिए एक विश्लेषणात्मक ढांचा देना चाहते हैं। क्या वे एक सतत आपराधिक उपक्रम वाले देश में रहते हैं ? या यह थोड़ा अधिक है, और यह मात्र कुछ दर्जन देशों के लिए ही है?

ड्रू सुलिवन: नहीं, यह कोई अतिश्योक्ति नहीं है। यह एक पारदर्शी लोकतंत्र से एक संगठित अपराध राज्य की ओर एक निरंतरता है,  राज्य हर समय आगे-पीछे चलते हैं। यह अनिवार्य रूप से सच है कि अधिकांश सरकारें लोकतांत्रिक नहीं हैं, यहाँ भारी मात्रा में भ्रष्टाचार भी चल रहा है। असली समस्या तब होती है जब राज्य हर प्रकार की सत्ता पर कब्जा कर लेता है। सवाल यह है कि क्या आपके पास सब कुछ करने की स्वतंत्रता है? यदि आप नहीं, तो अनिवार्य रूप से आपके ऊपर राज्य पर कब्जा है और आपका समाज शायद निरंकुशता और भ्रष्ट राज्य के करीब हैं। यहां तक कि लोकतांत्रिक देश- पोलैंड और चेक गणराज्य भी बुरी तरह पिछड़ रहे हैं।

डेविड कपलान: लेकिन यह एक अपराध से ज्यादा एक राजनीतिक मुद्दा है।

ड्रू सुलिवन: ठीक है। लेकिन कभी-कभी लोग राजनीतिक न होते हुए भी राजनीतिक कार्य करते हैं। हम सभी राजनेताओं को महान मानते हैं लेकिन क्या होगा यदि उनका असली लक्ष्य राज्य पर कब्जा करना या अपराध के माध्यम से धन कमाना हो ? क्या होगा यदि उनका लक्ष्य राज्य पर कब्जा करने के लिए लोकतंत्र का उपयोग करना है? यह अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी सहित कई राजनेताओं का लक्ष्य है,  फिर भी हम इस भ्रम को जारी रखने और उनके साथ सम्मान के साथ व्यवहार करने की अनुमति देते हैं। मैं विदेश विभाग को पुतिन के साथ बातचीत के लिए नहीं भेजूंगा। मैं FBI भेजूंगा।

डेविड कपलान: मुझे लगता है शासन का विश्लेषण करने के लिए रैकेटियरिंग विरोधी कानून का उपयोग करने का यह नियम प्रमुख निगमों पर भी लागू होता है।कुछ बड़ी कंपनियाँ हैं जो एक सतत आपराधिक उद्यम की इस परिभाषा में भी फिट होंगी। मैं कुछ तंबाकू कंपनियों, फार्मास्युटिकल उद्योग की कुछ फर्मों के बारे में सोचता हूं। आप इसे प्रमुख बहुराष्ट्रीय कंपनियों पर कैसे लागू करेंगे?

ड्रू सुलिवन: विशेष रूप से कुछ कंपनियां जो निरंकुश देशों में काम करती हैं। उदाहरण के लिए, आप निर्माण उद्योग में कई तुर्की की कंपनियों को देखेंगे, या प्राकृतिक संसाधन शोषण व्यवसाय में कंपनियां देखेंगे। वे बस एक देश में जाते हैं, और जो चाहते हैं उसे पाने के लिए रिश्वत और हेरफेर करते हैं। आप मध्य अफ़्रीका के देश एक्वटॉरीयल  गिनी में नहीं जा सकते और बिना रिश्वत दिए शासक परिवार के साथ व्यवहार नहीं कर सकते। जैसे-जैसे क्लेप्टोक्रेसी सरकारें बनती हैं, उनमें वही लोग सफल होते हैं वे सबसे भ्रष्ट व्यवसायी होते हैं।

डेविड कपलान: बाजार हिस्सेदारी और संसाधनों को हथियाने के लिए भुगतान में लगी कंपनियों के साथ क्या हो रहा है इसका यह एक अच्छा विवरण है। लेकिन मुझे लगता है कि फार्मास्युटिकल उद्योग की एक और श्रेणी है, जिस तरह से इसने संयुक्त राज्य में अफीम के उपयोग को बढ़ावा दिया। अनिवार्य रूप से, वे नशीले पदार्थों को बढ़ावा देने वालों के रूप में कार्य कर रहे हैं।

ड्रू सुलिवन: कानूनी ड्रग डीलर, हाँ।

डेविड कपलान: तंबाकू उद्योग ने तस्करों को फिर से बाजार में हिस्सेदारी बनाने के लिए उकसाया है। ये अरबों डॉलर के ब्लैक मार्केट हैं जिन्हें वे बढ़ावा दे रहे हैं जो केवल भ्रष्ट प्रथाओं के सहारे बढ़ते हैं।

ड्रू सुलिवन: हाँ, तंबाकू उद्योग हर तरह का काम करता है। यह उद्योग धन का एक आसान स्रोत है, चाहे वह भ्रष्ट सरकार हो या संगठित अपराध गिरोह, सब इसे चाहते हैं। एक पैक बनाने में 20 से 50 सेंट का खर्च आता है, और उसके और बिक्री मूल्य के बीच सब कुछ या तो कानूनी सिगरेट के मामले में कर राजस्व है, या तस्करी वाली सिगरेट के मामले में अपराधियों को लाभ है। तो, हाँ, ये आपराधिक उद्यम हैं।

आपके पास कई प्रकार के व्यवसायों द्वारा चल रहे आपराधिक षड्यंत्र हो सकते हैं, क्योंकि एक बार जब आप विश्व बाजार में जाते हैं, तो कोई वैश्विक कानून नहीं होता है। देशों के बीच सिर्फ कमजोर समझौते, प्रोटोकॉल और संधियां हैं। कानून प्रवर्तन एक राष्ट्रीय सीमा इकाई है। अलग-अलग देशों के अलग कानून लागू होते हैं, लेकिन आप हमेशा चीजों को सीमाओं के पार और पहुंच से बाहर ले जा सकते हैं, जो कि अपतटीय उद्योग ने वर्षों से किया है। अपतटीय उद्योग द्वारा स्थापित आपराधिक सेवाओं ने यह सब बेहद आकर्षक बना दिया है। आप BVI पर यह उजागर करने के लिए दबाव डाल सकते हैं कि किसी चीज़ के पीछे कौन है, लेकिन आप रूस, या चीन या तुर्की पर दबाव नहीं बना सकते। नतीजतन, किसी भी प्रकार की क़ानूनी कार्यवाही से बचना आसान हो गया है।

डेविड कपलान: क्या कुछ ऐसे उद्योग हैं जो आपराधिक उद्यम के लिए ज़्यादा उपयुक्त हैं? उदाहरण के लिए, मैं स्वास्थ्य सेवा उद्योग या शिक्षा के बारे में इतना नहीं सोचूंगा, लेकिन मैं संसाधनों, बैंकिंग या शिपिंग के बारे में सोचूंगा।

ड्रू सुलिवन: यह संपत्ति के आसपास होता है, क्योंकि इनमें से बहुत से निरंकुश देशों में कार्यशील अर्थव्यवस्थाएं नहीं हैं, उनके पास केवल प्राकृतिक संसाधन हैं। [अमेरिकी सीनेटर] जॉन मैककेन ने प्रसिद्ध रूप से कहा कि रूस एक देश के रूप में एक बड़ा गैस स्टेशन है, और इसमें बहुत सच्चाई है। तो, यह प्राकृतिक संसाधनों लकड़ी, तेल और गैस, खनिज का शोषण है।इन संसाधनों को छुपाया नहीं जा सकता उनको इधर-उधर ले जाने के लिए शिपिंग और परिवहन चाहिए।

डेविड कपलान: यदि एक खोजी रिपोर्टर के रूप में आप वास्तव में स्टोरी के लिए भ्रष्टाचार और रैकेटियरिंग के स्थान तलाश रहे हैं तो आपकी तलाश कहाँ होना चाहिए संसाधनों के इर्द गिर्द या परिवहन में?

ड्रू सुलिवन: पैसे का पीछा करें। यह मूल रूप से ऐसी चीजें हैं जो अपने आप में महत्वपूर्ण हैं, इसलिए जब आप खनिज जमीन से खोदते हैं, या जब आप पेड़ को काटते हैं, तो इसका मूल्य होता है। किसी भी प्रकार का प्राकृतिक संसाधन एक ऐसा उद्योग है जिसे आप मूल्य में परिवर्तित होते देखना चाहते हैं, क्योंकि यही एकमात्र चीज है जिससे  ये निरंकुश या माफिया पैसा कमा सकते हैं।

डेविड कपलान: सेवाओं से ज्यादा माल में?

ड्रू सुलिवन: हाँ। एक सेवा क्षेत्र जहां आप पैसा कमाते हैं वह है मनी लॉन्ड्रिंग।

डेविड कपलान: लेकिन वह सामग्री की सेवा में है, है ना?

ड्रू सुलिवन: लेकिन यह अपने आप में एक उद्योग बन गया है। इसलिए दुबई जैसे स्थान मनी लॉन्ड्रिंग के केंद्र बन गए हैं, सोने और हीरे जैसी चीजों से निपटने के लिए, उन्हें लॉन्डर करने और संपत्ति को छिपाने के लिए। अब अज़रबैजान, जिसे वे व्हाइट सिटी बना रहे हैं, एक और दुबई बनने के लिए तैयार किया गया है। हर कोई अपना दुबई बनाना चाहता है, एक ऐसी जगह जहाँ अंतर्राष्ट्रीय क़ानूनी एजेंसियों को जानकारी नहीं मिल सकती है। यह इलाक़े अपने आप में एक आपराधिक उपक्रम बन गए हैं।

डेविड कपलान: क्या लंदन का वित्तीय उद्योग एक आपराधिक उपक्रम है?

ड्रू सुलिवन: हाँ, इसका एक हिस्सा। अपतटीय धन उस धन का अधिकांश भाग हो सकता है जो शहर को चमकाता है और उसमें से अधिकांश आपराधिक है। यही कारण है कि इतने सारे रूसी धनपशु ब्रेक्सिट में आनन्दित हुए।

डेविड कपलान: पनामा या BVI जैसे पारंपरिक मनी लॉन्ड्रिंग हॉटस्पॉट के बारे में क्या?

ड्रू सुलिवन: इनमें से अधिकतर अपतटीय स्थान वास्तव में आपराधिक उपक्रम  नहीं हैं। वे व्यापार से बहुत पैसा कमा रहे हैं।

डेविड कपलान: संयुक्त राज्य अमेरिका के बारे में क्या? अमेरिका आक्रामक रूप से मनी लॉन्ड्रिंग पर मुकदमा नहीं चलाता है।

ड्रू सुलिवन: बिलकुल सही। यह भ्रष्टाचार का वैधीकरण है। उन्होंने भ्रष्टाचार के पहलुओं को वैध कर दिया है क्योंकि लोग इससे पैसा कमाते हैं। आपराधिक आय के निवेश के लिए हेज फंड, धरती का सबसे बड़ा उपक्रम है।

डेविड कपलान: क्या आप जिन्हें माफिया राज्य कहेंगे उन देशों के कुछ उदाहरण दे सकते हैं ?

ड्रू सुलिवन: मोंटेनेग्रो एक अच्छा उदाहरण है। यह एक छोटा सा देश है – केवल 6 लाख लोग – और इसे किसी ऐसे व्यक्ति द्वारा चलाया जाता था जिसकी जीवन में पहली नौकरी ही प्रधानमंत्री की थी। अपने भाई के माध्यम से संगठित अपराध से उनका घनिष्ठ संबंध था, इसलिए उन्होंने अवैध तंबाकू व्यापार में शुरुआत की। उस समय राज्य स्वयं वास्तव में अवैध व्यापार में भाग ले रहा था। हमने समय के साथ उन तंत्रों की खोज की जो उन्होंने इसे आगे बढ़ाने के लिए स्थापित किए। प्रधानमंत्री ने अपने परिवार के लिए एक बैंक का निजीकरण किया। उसमें भारी मात्रा में सरकारी धन डालना शुरू कर दिया, साथ ही नियम बनाए कि अन्य लोग, यदि वे कोई सौदा करने जा रहे हैं, तो उन्हें इस बैंक के माध्यम से काम करना होगा। फिर उसने संगठित अपराध के लिए अपने दोस्तों और खुद के लिए बैंक से पैसे उधार लेना शुरू कर दिया। जब बैंक डूब गया, तो उसने इसे सरकारी पैसे से उबार लिया। जो पैसा करदाताओं का ही था।

डेविड कपलान: क्या एक और माफिया राज्य केस स्टडी है?

ड्रू सुलिवन: कोसोवो इसका एक  और स्पष्ट उदाहरण है, जहां वास्तव में नेतृत्व स्वयं पुराना माफिया है। सर्बिया सक्रिय रूप से आपराधिक गिरोहों के साथ काम करता है जो सत्ताधारी पार्टी को फंड करते हैं। वास्तव में ऐसा लगता है कि माल्टा भी आपराधिक समूहों की ओर से काम करता है। इक्वेटोरियल गिनी – तेओडोरो और उसका समूह, ओबियांग्स – यह ड्रग्स के लिए एक प्रमुख ट्रांसशिपमेंट बिंदु रहा है।

डेविड कपलान: डुटर्टे के फिलीपींस के बारे में क्या कहना है, जहां राज्य ने व्यवस्थित तरीके से न्यायेत्तर हत्याओं का इस्तेमाल किया है?

ड्रू सुलिवन: यह भ्रष्टाचार है, और यह मानवाधिकारों का उल्लंघन है, लेकिन डुटर्टे का आपराधिक गतिविधि से काफी कम संबंध है। वह खुद को और अपने आस-पास के लोगों को समृद्ध कर रहा है, लेकिन यह अभी भी वास्तव में अपराधी से अधिक राजनीतिक है जो हम अभी तक जानते हैं।

डेविड कपलान: लेकिन सबसे स्पष्ट उदाहरण उत्तर कोरिया है, जिस पर मैंने लगभग 20 साल पहले लिखा था। मुझे याद है जब मैं इसकी रिपोर्ट कर रहा था, किसी ने समझाया कि आमतौर पर जब हम किसी माफिया को सरकार पर कब्जा करते देखते हैं, तो यह नीचे से ऊपर की ओर आता है। यह पूरी तरह से ऊपर से नीचे की ओर था।

ड्रू सुलिवन: सही। लेकिन इसकी एक वजह है। यह अंतरराष्ट्रीय मुद्रा तक पहुंचने का साधन है। उनकी बड़ी समस्या यह है कि उन्हें विदेशी मुद्रा की जरूरत है। लेकिन वे कुछ भी नहीं बेचते हैं तथा वे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख़ारिज किये गये हैं। इसलिए, वे अमेरिकी डॉलर की जालसाजी कर रहे हैं और ड्रग्स बेच रहे हैं।

डेविड कपलान: उनके राजनायिकों के पास पर्याप्त पैसा नहीं था। वे अपना बजट बनाने के लिए नकली सीडी बेच रहे थे और तंबाकू की तस्करी कर रहे थे।

ड्रू सुलिवन: एक समय पूर्वी यूरोप में भी यह सच था। इनमें से अधिकांश देशों ने शीत युद्ध के दौरान, अपने संगठित अपराध का निर्यात किया। इसलिए मूल रूप से यह सभी सर्बियाई पैसा कमाने के लिए स्वीडन और अन्य जगहों पर गये थे। रोमानिया राज्य विदेशी मुद्रा अर्जित करने के लिए नशीले पदार्थों की तस्करी कर रहा था। यह एक लोकप्रिय तरीका था। और यही वह माहौल है जहां पुतिन बड़े हुए, जब वह FSB में थे। उन्हें लगा, “ओह, हमें यह देश की भलाई के लिए करना है।” लेकिन इसने यह रवैया बनाया कि राज्य आपराधिक उपक्रम के साथ सह-अस्तित्व में आ सकते हैं, क्योंकि यह उनके हित में है। तब से यह धारणा चल रही है ।

डेविड कपलान: कुछ हद तक ठीक है,  यदि आप खुफिया व्यवसाय में हैं और आपको काम करने की आवश्यकता है, तो आपको इस बात से अवगत होना चाहिए कि भूमिगत बाजार क्या हैं। जब तियानमेन स्क्वायर के बाद चीन से लोगों की तस्करी की गई, तो CIA  ने उन्हें मुख्य भूमि से बाहर निकालने के लिए ट्रायड कनेक्शन का इस्तेमाल किया।

ड्रू सुलिवन: पुतिन भी उनका उपयोग करते हैं – उन्होंने रूस में कई प्रमुख संगठित अपराधियों के गैंग के शीर्ष लोगों को गिरफ्तार किया। फिर उन्हें रिहा कर दिया और कहा कि अब आप हमारे लिए काम करें। कभी-कभी सरकार इन्हीं संगठित अपराध करने वाले लोगों को हत्यारे दस्ते के रूप में रूस से बाहर भी भेजते हैं।

डेविड कपलान: आइए यहां युक्तियों और उपकरणों की ओर चलते हैं। क्या एक माफिया राज्य की जांच एक अपराध कार्टेल की जांच करने से गुणात्मक रूप से अलग है?

ड्रू सुलिवन: यह कई मायनों में आसान है। क्योंकि आपके पास अभी भी राज्य के रिकॉर्ड, दस्तावेज, निविदाओं, कंपनियों की जानकारी है।

डेविड कपलान: सही है, आपको एक राज्य चलाना होता है, और उसमें से कुछ तो सार्वजनिक हो ही जाता है।

ड्रू सुलिवन: बिल्कुल। एक संगठित अपराध गिरोह की तुलना में एक राज्य अधिक पारदर्शी इकाई है। आप शीर्ष पर शुरू होने वाले संगठन के पदानुक्रम को एक साथ जोड़ते हैं, जैसा कि आप एक अपराध गिरोह के साथ करेंगे। सरकार के भीतर अनौपचारिक नेटवर्क हैं जो अक्सर औपचारिक नेटवर्क से अधिक महत्वपूर्ण होते हैं। तो, आप उन लोगों का पता लगाते हैं जो सबसे महत्वपूर्ण हैं। आप देखते हैं कि कौन अमीर हो रहा है, किसको सबसे अच्छा घर मिला है। कौन है जो नए बने उपनगर में राष्ट्रपति के करीब रह रहा है।

डेविड कपलान: आप यह कैसे करते हैं? क्या आप नेटवर्किंग एनालिसिस सॉफ्टवेयर का उपयोग कर रहे हैं? क्या आप इसे एक बड़े व्हाइटबोर्ड पर लिखते हैं? आपके पास लोगों की तस्वीरों वाला बुलेटिन बोर्ड है, जैसा पुराने टीवी पुलिस शो में दिखाया जाता था?

ड्रू सुलिवन: उपरोक्त सभी। यह एक बीट है, और आपको जो भी जानकारी मिल सकती है उसे धैर्यपूर्वक संभाल कर रखना होता है। हम सभी डेटा को जोड़ने के लिए एक ज्ञान प्रबंधन प्रणाली का उपयोग करते हैं, और यह अन्य सॉफ़्टवेयर के साथ इंटरफेस करता है। फिर आप पैसे का पीछा करें।

एक संगठित अपराध गिरोह में पैसा ड्रग्स जैसे अवैध व्यापार से होगा। एक सरकार में यह होने वाले अनुबंधों के इर्द गिर्द होता है। तेल खोदने का अधिकार किसे मिलता है? पेड़ों को काटने का अधिकार किसे प्राप्त है? फोन कंपनी का मालिक कौन है? यह आपको बताता है कि माफिया राज्य में पसंदीदा लोग कौन हैं। लेकिन संपत्ति को परिभाषित करने की कुंजी अगला कदम है।

डेविड कपलान: सही। संपत्ति यहां एक बड़ी भूमिका निभाती है।

ड्रू सुलिवन: बिल्कुल, क्योंकि आप हमेशा नहीं जानते कि पैसे के उस हेरफेर में क्या होता है। लेकिन आप यह पता लगा सकते हैं कि यह कहां जा रहा है, तथा कभी-कभी जब कोई संपत्ति खरीदी गई थी, जहां इसे खरीदा गया था, इसे कैसे खरीदा गया था, फिर आप इसे सरकारी अनुबंधों की प्रक्रिया में कहां से उन्हें पैसा मिला जोड़ सकते हैं।

प्रत्येक व्यक्ति के आस-पास लोगों का एक छोटा समूह होता है जो संपत्ति का बेनामी मालिक हो सकता है। आपको यह पता लगाना होगा कि यह पार्टियां कौन हैं, उनके वकील कौन हैं, उनके परिवार के सदस्य कौन हैं, और फिर उन नामों के तहत संपत्ति की तलाश करें। यह कोई ऐसा व्यक्ति होना चाहिए जिस पर उन्हें भरोसा हो।

डेविड कपलान: कॉर्पोरेट रजिस्ट्रियों के लिए आप किस तरह के रिकॉर्ड का उपयोग कर रहे हैं?

ड्रू सुलिवन: कॉर्पोरेट रजिस्ट्रियां, भूमि रिकॉर्ड, संपत्ति रिकॉर्ड। फ़्रांस ने अभी-अभी अपनी संपत्ति के रिकॉर्ड ऑनलाइन उपलब्ध कराए हैं – हम वहाँ हर तरह के दिलचस्प नाम खोज रहे हैं। वहाँ बहुत सारे लीक हुए बैंकिंग डेटा हैं जो आपको संकेत देंगे कि किसके पास पैसा है और यह कहाँ है। आपको ICIJ से, OCCRP से, अन्य संगठनों से जुड़ने की आवश्यकता है, जिन्होंने लीक हुए डेटा का डेटाबेस बनाया है। भले ही वह 10 या 15 साल पुराना हो, यह मूल्यवान है। पुराने डेटाबेस के समूह में एक नया प्रतिनिधि अचानक दिखाई दे सकता है।

डेविड कपलान: इस क्षेत्र में हम लोगों की मदद करने वाले कुछ क्रमों में से एक यह है कि हम बड़े पैमाने पर लीक के इस युग में हैं – जहां आप पेन ड्राइव पर पूरी कंपनी के रिकॉर्ड प्राप्त कर सकते हैं। इस प्रकार की जांच के लिए यह कितना महत्वपूर्ण है? क्या आप लोग उस पर निर्भर रहते हैं ?

ड्रू सुलिवन: यह उस बिंदु पर पहुंच गया है जहां इन लीक डेटा में से पर्याप्त रिपोर्टिंग का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। पैसे का पीछा करने के लिए हमारा बहुत सारा समय विभिन्न लीक को एक साथ जोड़ने में व्यतीत होता है।

डेविड कपलान: जब आप एक प्रोजेक्ट शुरू करते हैं, तो क्या आप इस उम्मीद में स्रोत पर हफ्तों खर्च करते हैं कि कोई आपको एक दस्तावेज़ का ढेर देने जा रहा है?

ड्रू सुलिवन: हाँ, हम ऐसा करते हैं। लेकिन साथ ही, हम लगातार जानकारी एकत्र करने पर विचार कर रहे हैं, व सामग्री हैक, फिरौती या स्क्रैप ऐसे तरीकों से सामने आती है जो जरूरी नहीं कि लीक हो। हम नियमित रूप से सैकड़ों डेटासेट स्क्रैप कर रहे हैं। फिरौती उद्योग से लोगों को बहुत सी मूल्यवान जानकारी मिलती है। चूंकि बहुत सी कंपनियां फिरौती नहीं देती हैं, इसलिए उनकी जानकारी लीक हो जाती है।

डेविड कपलान: गैरकानूनी रूप से प्राप्त सामग्री का उपयोग करने की नैतिकता क्या है?

ड्रू सुलिवन: यह संदिग्ध है। लेकिन हम इस तरह से प्राप्त सामग्री की हिमायत नहीं करते। हम ऐसी सामग्री क़तई नहीं लेते जिसे सार्वजनिक रूप से उपलब्ध न कराया गया हो। हम इसका उपयोग केवल तभी करते हैं जब कोई सार्वजनिक अवहेलना के हित में हो।

डेविड कपलान: हालांकि, इस तरह की जांच पूरी तरह से बड़े पैमाने के लीक पर ही निर्भर नहीं रहतीं।

ड्रू सुलिवन: नहीं।

डेविड कपलान: डॉक्युमेंट्स की गहन खोज, पैटर्न को समझना, सार्वजनिक अभिलेखों का अध्ययन करना व साक्षात्कार करना दूसरे शब्दों में रिपोर्टिंग में कितना काम है?

ड्रू सुलिवन: रिपोर्टिंग भाग बिल्कुल नहीं बदला है, हम अभी भी वही मेहनत कर रहे हैं। वास्तव में, हम अभी भी पहले से कहीं अधिक स्रोत विकसित कर रहे हैं, उच्च दर पर सार्वजनिक रिकॉर्ड का अनुरोध कर रहे हैं। हम बहुत अधिक ओपन-सोर्स शोध कर रहे हैं। हमें कई बड़ी खबरें इसलिए मिली क्योंकि गर्लफ्रेंड ने अपने ट्रिप की तस्वीरें टिकटॉक पर डाल दीं। सोशल मीडिया ओपन सोर्स इन्फ़र्मेशन का अच्छा माध्यम बन गया है।

डेविड कपलान: मुलाक़ात कर के स्रोत विकास के बारे में क्या? यह अभी भी कितना महत्वपूर्ण है?

ड्रू सुलिवन: यह अभी भी बहुत महत्वपूर्ण है। खोजी रिपोर्टिंग नहीं बदली है। समस्या यह है कि बहुत से युवा इन पुराने कौशलों को नहीं जानते हैं।

डेविड कपलान: वे नहीं जानते कि आमने-सामने साक्षात्कार कैसे किया जाता है?

ड्रू सुलिवन: बिल्कुल। वे ऐसा नहीं करते – उन्हें लगता है कि वे सब कुछ ऑनलाइन कर सकते हैं। हमारे पास ऐसे पत्रकार हैं जो पुराने मापदंड के दृष्टिकोण पर विशेष रूप से अच्छे हैं, दूसरे जो ऑनलाइन सामग्री में विशेष रूप से कुशल हैं, हम दोनों को जोड़ते हैं।

डेविड कपलान: इन जटिल जांचों को करने के लिए OCCRP किस तरह के सॉफ्टवेयर का उपयोग करता है? हम इसे संबंधविश्लेषण कहते हैं – इन सभी रिश्तों को एक चार्ट पर उतार ले फिर उनके पैसे, संपत्ति और खातों को जोड़ कर पूरी कड़ी बनाते जायें। आप इस सब को डिजिटल रूप से कैसे समझते हैं?

ड्रू सुलिवन: Aleph हमारे बड़े उपकरणों में से एक है, और हमने इसे स्वयं डिजाइन और निर्मित किया है। हम अपना सारा डेटा इसमें डाल देते हैं। एलेफ Linkurious से जुड़ा है, जिसका उपयोग हम अंतर्निहित डेटा के आधार पर नेटवर्क मैप बनाने के लिए करते हैं। इसमें एक टाइमलाइन कार्यक्षमता है, जिससे आप एक टाइमलाइन बना सकते हैं। इसमें क्रॉस रेफरेंसिंग है जहां आप एक दूसरे के खिलाफ डेटाबेस चला सकते हैं। आप i2 जैसे टूल का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन वे महंगे हैं, यही वजह है कि हमने आमतौर पर उनका इतना उपयोग नहीं किया है। सोशल नेटवर्क एनालिसिस टूल का एक समूह है जो वहां मौजूद हैं, उनमें से कुछ निशुल्क हैं। लेकिन उन्हें किसी ऐसे व्यक्ति की आवश्यकता होती है जिसके पास बहुत सारे तकनीकी कौशल हों। Aleph मुफ़्त है और आप लिंक्यूरियस तक भी पहुँच प्राप्त कर सकते हैं।

डेविड कपलान:: संचार के बारे में क्या?

ड्रू सुलिवन: हम जानकारी साझा करने और स्टोरीज पर सहयोग करने के लिए Wiki प्रणाली का उपयोग करते हैं। हम अपने बीच सुरक्षित चर्चा के लिए सिग्नल का उपयोग करते हैं। यह काफी सरल है। ऐसा करने के लिए बेहतर उपकरण होने चाहिए, लेकिन सिग्नल, विकी और एलेफ के बीच, हम अपनी सभी परियोजनाओं का समन्वय करते हैं, और वे सभी, किसी भी रिपोर्टर के लिए उपलब्ध हैं।

डेविड कपलान: टीम में काम करने के महत्व के बारे में क्या? यह बड़े टारगेट हैं, जो ख़तरनाक भी है। राष्ट्र राज्यों के पास बहुत सारे संसाधन होते हैं, वे एक व्यक्तिगत रिपोर्टर को कुचल सकते हैं। आप इससे कैसे निपटते हैं?

ड्रू सुलिवन: सभी बड़े भ्रष्टाचार और संगठित अपराध की स्टोरीज अब सीमा पार हैं। इसलिए पहले से कहीं अधिक, विभिन्न विशेषज्ञता वाली टीम का होना महत्वपूर्ण है। आपको स्थानीय पत्रकारों की, साइबर सिक्योरिटी रिपोर्टर्स, शोधकर्ताओं, सोशल मीडिया विशेषज्ञ की जरूरत है । डेटा समझने वाला व्यक्ति जो इन लीक को खोद कर  निकाल सकते हैं। हम एक नेटवर्क हैं और हम उस नेटवर्किंग का उपयोग एक दूसरे के कौशल का लाभ उठाने के लिए करते हैं। वास्तव में, यही कारण है कि हम बहुत सी स्टोरीज करने व उन्हें शीघ्रता से करने में सक्षम होते हैं। यदि आपके पास उन लोगों के साथ कोई संगठन नहीं है, तो आपको GIJN जैसे संगठनों का उपयोग करके उन संबंधों को बनाने की जरूरत है।

डेविड कपलान: क्या होगा यदि आप एक भ्रष्ट शासन में रहने वाले एक व्यक्तिगत रिपोर्टर हैं, और आप इसका दस्तावेजीकरण शुरू करना चाहते हैं?

ड्रू सुलिवन: हम तुर्कमेनिस्तान जैसी जगहों पर पत्रकारों के साथ काम करते हैं जहां बहुत भ्रष्ट शासन है यहां उन्हें हमसे बात करते हुए भी नहीं देखा जा सकता है। किंतु वे अन्य जगहों पर पत्रकारों के साथ संबंधों का लाभ उठाकर बहुत काम कर सकते हैं। आप अपने देश के अंदर संपत्ति कहां है देखने में सक्षम नहीं हो सकते हैं, लेकिन आप इसके बाहर के देशों में तो देख सकते हैं।

डेविड कपलान: क्या आज आपको लगता है कि सरकारों के लिए बातें गोपनीय रखना कठिन होता जा रहा है?

ड्रू सुलिवन: हां, ऐसा इसलिए है, क्योंकि संवाद करना इतना आसान है। साथ ही, क्योंकि कई सरकारें अब इतनी भ्रष्ट हैं, जो हो रहा है उससे बहुत सारे लोग परेशान हैं। यहीं से लीकिंग की बात आती है। मुझे ऐसा भी लगता है कि यह एक ऐसा उपकरण है जिसका उपयोग सरकारी लोग भी कर रहे हैं। मेरा मानना है कि कई बड़े लीक सरकारों की ओर से आए हैं।

डेविड कपलान: इसके बारे में थोड़ा और बताए। आपको संदेह है कि इन बड़े पैमाने पर लीक में खुफिया सेवाएं शामिल हैं?

ड्रू सुलिवन: हाँ। मुझे लगता है कि यह जानकारी प्राप्त करना कुछ देशों के हित में है। देश ऐसी जानकारी लीक कर रहे हैं जो बाहर निकलने, दूसरे देशों को चोट पहुँचाने या लोगों को चोट पहुँचाने के लिए उनके हित में है।

डेविड कपलान: पत्रकार खुद को इस तरह इस्तेमाल किए जाने से कैसे बचा सकते हैं?

ड्रू सुलिवन: आपकी अपनी नैतिक ताक़त है। आपको यह सुनिश्चित करने पर कड़ी नज़र रखनी होगी कि आप ऐसी खबरें करें जो जनता के बड़े हित में हों। मुझे लगता है कि यही कुंजी है। हम आपस में इस बात पर लगातार बहस कर रहे हैं: क्या जनता को वाकई यह जानने की ज़रूरत है? हम यह सुनिश्चित करने का प्रयास करते हैं कि हम जो कुछ भी करते हैं वह भ्रष्टाचार की व्याख्या कर रहा है, या जिस तरह से सरकार – या व्यवसाय या संगठित अपराध – काम कर रहा है, ताकि जनता बेहतर निर्णय ले सके कि क्या करना है।

अतिरिक्त संसाधन

A Reporter’s Guide: How to Investigate Organized Crime’s Finances

Human Trafficking: Investigating an Evil Hidden in Plain Sight

Digging into Disappearances: A Guide to Investigating Missing People and Organized Crime


डेविड ई कपलान ग्लोबल इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज्म नेटवर्क के कार्यकारी निदेशक हैं। उन्होंने 35 वर्षों से संगठित अपराध के बारे में लिखा है और याकूजा के सह-लेखक हैं, जिसे व्यापक रूप से जापानी माफिया पर स्थायी कार्य माना जाता है। कपलान ने दो दर्जन देशों से रिपोर्टिंग की है। उन्होंने 25 से अधिक पुरस्कार जीते या साझा किए हैं और गैर-लाभकारी न्यूज़रूम, खोजी टीमों और कई सीमा पार रिपोर्टिंग परियोजनाओं का प्रबंधन किया है।

ड्रू सुलिवन ऑर्गनाइज्ड क्राइम एंड करप्शन रिपोर्टिंग प्रोजेक्ट के सह-संस्थापक और प्रकाशक हैं। उनके निर्देशन में, OCCRP ने ग्लोबल शाइनिंग लाइट अवार्ड, क्राइम रिपोर्टिंग के लिए टॉम रेनर अवार्ड और यूरोपीय प्रेस पुरस्कार सहित कई पुरस्कार जीते हैं। इससे पहले, उन्होंने द टेनेसीन अखबार और एसोसिएटेड प्रेस की विशेष असाइनमेंट टीम के लिए एक खोजी रिपोर्टर के रूप में काम किया।

क्रिएटिव कॉमन्स लाइसेंस के तहत हमारे लेखों को निःशुल्क, ऑनलाइन या प्रिंट माध्यम में पुनः प्रकाशित किया जा सकता है।

आलेख पुनर्प्रकाशित करें


Material from GIJN’s website is generally available for republication under a Creative Commons Attribution-NonCommercial 4.0 International license. Images usually are published under a different license, so we advise you to use alternatives or contact us regarding permission. Here are our full terms for republication. You must credit the author, link to the original story, and name GIJN as the first publisher. For any queries or to send us a courtesy republication note, write to hello@gijn.org.

अगला पढ़ें

पतनशील लोकतंत्र में कैसे टिके पत्रकारिता? भारत और हंगरी के संपादकों ने बताए पाँच उपाय

भारत में मीडिया संगठनों पर मनी लॉन्ड्रिंग या टैक्स-चोरी जैसे आर्थिक अपराधों के आरोप लगाए जाते हैं। पहले पत्रकारों के खिलाफ मानहानि के आरोपों का इस्तेमाल किया जाता था। उस पारंपरिक न्यायिक रणनीति को बदलकर अब आर्थिक आरोप लगाने का प्रचलन बढ़ा है। अदालतों में धीमी कानूनी प्रक्रिया के कारण यह परेशानी ज्यादा बढ़ जाती है। पत्रकारों के उत्पीड़न का एक तरीका उनकी यात्रा पर प्रतिबंध लगाना है।

Invetigative Agenda for Climate Change Journalism

जलवायु समाचार और विश्लेषण

जलवायु परिवर्तन पत्रकारिता के लिए खोजी एजेंडा

दुनिया भर में हजारों पत्रकार जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभाव पर रिपोर्टिंग कर रहे हैं। ऐसी पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए कई नेटवर्क स्थापित किए गए हैं। ऐसी पत्रकारिता जनसामान्य को सूचित करने और जोड़ने के लिए महत्वपूर्ण है। यह सत्ता में बैठे उन लोगों को चुनौती देने के लिए भी जरूरी है, जो पर्यावरण संरक्षण की बात करते हैं, लेकिन वास्तव में पृथ्वी को जला रहे हैं। ऐसी सत्ता की जवाबदेही सुनिश्चित करना ही खोजी पत्रकारिता का मौलिक कार्य है।

टिपशीट

पत्रकार अपने स्मार्टफ़ोन से एक बेहतर फोटो कैसे ले सकते हैं

जेपीईजी फ़ाइलें अधिक पूर्ण चित्र बनाने के लिए फ़ोन की कम्प्यूटेशनल शक्ति का उपयोग करती हैं। प्रोरॉ फ़ाइलें तब तक उतनी बेहतर नहीं होंगी, जब तक कि आप उन पर काम न कर लें। वे सफेद के संतुलन और हाइलाइट्स पर बेहतर नियंत्रण प्रदान करती हैं। इनमें छाया और त्वचा टोन का अधिक गतिशील रेंज मिलता है।

Using Social Network Analysis for Investigations YouTube Image GIJC23

रिपोर्टिंग टूल्स और टिप्स

खोजी पत्रकारिता के लिए उपयोगी है ‘सोशल नेटवर्क एनालिसिस’

सोशल नेटवर्क एनालिसिस। यह कनेक्शन, पैटर्न और अनकही कहानियों की एक आकर्षक दुनिया है। पत्रकारों के टूलकिट में यह एक नई शक्तिशाली सुविधा जुड़ी है। यह हमारी दुनिया को आकार देने वाले रिश्तों के छिपे हुए जाल को उजागर करने में सक्षम बनाती है। यह केवल बिंदुओं को जोड़ने तक सीमित नहीं है। इससे सतह के नीचे मौजूद जटिल कहानियां भी उजागर हो सकती हैं।