आलेख

विषय

सोशल मीडिया पर किसी का नाम पता कैसे खोजें: कुछ टिप्स

इस लेख को पढ़ें

खोजी पत्रकारों के लिए खबरों का एक अच्छा स्रोत सोशल मीडिया है। इसमें डेटा का खजाना छुपा हुआ है। संभव है कि यहां आपको ऐसा खजाना हाथ लग जाए, जिसे किसी कंपनी ने खुद ही छुपा रखा हो। आप इसे कैसे ढूंढ सकते हैं, यह जानना उपयोगी होगा।

हेंक वैन एस  के टिप्स यहाँ प्रस्तुत हैं। वह ओपन सोर्स रिपोर्टिंग के विशेषज्ञ हैं। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जानकारी खोजने के लिए दर्जनों तरीके विकसित किए हैं। अप्रत्यक्ष माध्यमों से ऐसी खोज के साथ ही उन्होंने कई सर्च ऐप्स भी बनाए हैं।

हेंक वैन एस ने हाल ही में जीआईजेएन वेबिनार में कई टिप्स साझा किए। “इन्वेस्टिगेटिंग सोशल मीडिया”  विषय पर इस वेबिनार में 88 देशों के 483 पत्रकार शामिल हुए। उन्होंने बताया कि विजुअल थिंकिंग के जरिए ऑनलाइन सर्च को किस तरह बेहतर बनाया जाए। उन्होंने सर्च पर ध्यान केंद्रित करने के लिए टिप्स भी दिए। उन्होंने दिसंबर 2020 में भी एक वेबिनार में उपयोगी जानकारी दी थी।

सोशल मीडिया से डेटा तलाशने के संबंध में हेंक वैन एस के सुझाव यहां प्रस्तुत हैं:

  • फेसबुक में ‘कौन’ और ‘कहां’ का पता लगाएं:  फेसबुक इंटरफेस में किसी ‘स्थान’ का नाम डालें। फिर, सर्च बॉक्स के नीचे दिए गए ‘पीपुल’ पर क्लिक करें। अब फेसबुक के प्री-फॉरमेटेड डेटाबेस प्रविष्टि पर क्लिक करके जांच करें कि ‘सिटी’ के अंतर्गत सही जगह का नाम भरा गया है। की-वर्ड के जरिए उस सूची को संक्षिप्त करें।
  • फोटो: लिंक में नीचे दाएं तरफ पीले रंग में ‘वीडियो’ शब्द को हाइलाइट किया  गया है। यह दिखाता है कि आप किस प्रकार की सामग्री तलाश रहे हैं। जैसे ‘पोस्ट’, ‘वीडियो’ अथवा ‘फोटो’। इससे फेसबुक को पता चल जाता है कि आपको क्या चाहिए।

  • फेसबुक में ‘क्या’ और ‘कब’ की तलाश करें: फेसबुक में आपको किसी पोस्ट की तारीख खोजने की सुविधा नहीं है। लेकिन हेंक वैन एस ने एक निःशुल्क टूल विकसित किया है। किसने क्या पोस्ट किया ? आपको किसी तिथि और विषय के आधार पर पोस्ट और वीडियो खोजने की सुविधा देता है। इस वेबसाइट में आप किसी विशिष्ट तिथि, महीने या वर्ष के आधार पर कीवर्ड सर्च कर सकते हैं। ‘हू पोस्टेड व्हाट’ पर बनाए गए लिंक में ‘वीडियो’ के बदले ‘पोस्ट’ या ‘इमेज’ लिखकर आप इन चीजों की खोज कर सकते हैं।
  • समय सीमा के भीतर तीव्र गति से सर्च करें:  पत्रकारिता में आपको बेहद कम समय के भीतर किसी डेटा की तलाश करना जरूरी होता है। सही तरीके से सर्च करके कम समय में आप बेहतर परिणाम हासिल कर सकते हैं। हेंक वैन एस ने केस स्टडी के रूप में एक ब्रेकिंग न्यूज से जुड़े सर्च का उदाहरण साझा किया।
  • स्विट्जरलैंड के वॉड क्षेत्र के ‘एप्पल’ नामक एक गांव में बेल्जियम के एक व्यक्ति की मौत हुई थी। इस घटना का पता लगाना था। हेंक वैन एस ने अपनी सर्च में तीन शब्द लिखे:  एप्पल, वॉड, और मौत। लेकिन गूगल के एल्गोरिथम ने ‘एप्पल’ शब्द को छोड़कर शेष दो शब्दों के परिणाम दिखाए। इसलिए यह खोज विफल हो गई।
  • तब उन तीन शब्दों में से प्रत्येक को उद्धरण चिह्नों के भीतर डाला गया ताकि गूगल उन सभी शब्दों को एक ही पृष्ठ पर खोज सके। ऐसा करने पर उस मामले की एक  खबर मिल गई।
  • फेसबुक में किसी का ‘नाम’ खोजें: स्विट्जरलैंड के उस गांव में बेल्जियम के एक परिवार को  तलाशने के लिए हेंक वैन एस ने एक सामान्य बेल्जियम उपनाम, ‘वैन’ का प्रयोग किया। इससे सही परिणाम मिल गए। अगर आप किसी क्षेत्र के विशेष नाम पैटर्न से अपरिचित हों, तो इसे भी गूगल सर्च में ढूंढ सकते हैं। जैसे- ‘बेल्जियम के उपनाम।’
  • यूआरएल कोड का भी उपयोग करें: यूआरएल कोड से कुछ लोग घबराते हैं, जबकि फेसबुक में आप इसका अच्छा उपयोग कर सकते हैं। अपनी खोज में आप किसी शहर के सिर्फ एक नाम वाले विशेष शब्द को तलाश सकते हैं। इसके लिए यूआरएल में ‘क्यू =’ फ़ंक्शन के बाद ‘एप्पल’ शब्द को हटाकर “वैन” शब्द डाला गया। इससे उस मृत व्यक्ति का पूरा नाम मिल गया। यह भी पता चला कि उसे ‘बास्केटबॉल से प्यार था।’
  • लिंक्ड-इन से भी करें डेटा सर्च:  माइक्रोसॉफ्ट ने अब लिंक्ड-इन को खरीद लिया है। इसके बाद से इसमें अधिक डेटा खोज की सुविधा है। इसमें उस मृतक का नाम, बास्केटबॉल और एप्पल टाइप करने से उसकी पूरी प्रोफाइल मिल गए। इन सरल कदमों ने केवल 15 मिनट में सारे डेटा की तलाश कर दी।
  • लिंक्डइन में छोटे स्थान का पता लगाना: किसी छोटे स्थान का पता लगाने के लिए भी एक तरीका है। उस स्थान का नाम लिखने के बाद रिक्त स्थान दें। फिर क्षेत्र को उद्धरण चिह्नों में लिखें। जैसे- जेन स्मिथ “पैराडाइज, कैलिफ़ोर्निया।” हेंक वैन एस के अनुसार लिंक्ड-इन में ‘सिटी’ खोज सुविधा जल्द ही खत्म हो सकती है।
  • लिंक्ड-इन में पूर्ण नाम की तलाश:  यदि कोई खाता अपने शीर्षक के रूप में नाम के बजाय “लिंक्ड-इन सदस्य” का उपयोग करता है, तो उसका पूरा नाम पता लगाने का एक तरीका है। आप कंपनी की जानकारी को उद्धरण चिह्नों के साथ ‘सिटी’ का नाम टाइप करके देश का लिंक्डइन पता जोड़कर ढूंढ सकते हैं। जैसे भारत के लिए:  site:in.linkedin.com
  • रहस्यमय ईमेल पते वाले लिंक्ड-इन खाते की तलाश: आउटलुक ईमेल खाते का उपयोग करते हुए ‘न्यू कॉन्टेस्ट’ में वह ईमेल पता लिखें। फिर आउटलुक पेज के लिंक्ड-इन आइकन पर क्लिक करें। इससे कई बाधाओं को बायपास करते हुए लिंक्ड-इन   तक पहुंच सकते हैं।
  • इंस्टाग्राम में तीव्रगति से सर्च करें: यदि आपको किसी समाचार ईवेंट की सोशल मीडिया फोटो ढूंढनी  हो, तो गूगल में पता ढूंढें। उस पते का उपयोग करके इंस्टाग्राम में जियोटैग की तलाश करें। फिर उस लिंक को इवेंट की तारीख के साथ ‘हू पोस्टेड व्हाट’ में टाइप करें।
  • डिलीट किए गए ट्वीट्स को खोजें:  सार्वजनिक हस्तियों द्वारा डिलीट किए गए ट्वीट्स को खोजने के लिए archive.org और गूगल कैश तथा Politwoops.com उपयोगी है। पोलीट्वॉप्स डॉट कॉम में भी आप सर्च सकते हैं। इसमें राजनेताओं द्वारा हटाए गए पोस्ट और ट्वीट का एक विश्वव्यापी डेटाबेस है।
अतिरिक्त संसाधन

Henk van Ess on Visual Thinking for Online Investigations

GIJN Masterclass with Paul Myers: Online Research Tips for Digging into the Pandemic and Beyond

My Favorite Tools with BuzzFeed’s Craig Silverman


रोवन फिलिप  जीआइजेएन के रिपोर्टर हैं। पहले वह दक्षिण अफ्रीका के संडे टाइम्स के मुख्य संवाददाता थे। एक विदेशी संवाददाता के रूप में उन्होंने दुनिया भर के दो दर्जन से अधिक देशों से समाचार, राजनीति, भ्रष्टाचार और संघर्ष पर रिपोर्टिंग की है।

क्रिएटिव कॉमन्स लाइसेंस के तहत हमारे लेखों को निःशुल्क, ऑनलाइन या प्रिंट माध्यम में पुनः प्रकाशित किया जा सकता है।

आलेख पुनर्प्रकाशित करें


Material from GIJN’s website is generally available for republication under a Creative Commons Attribution-NonCommercial 4.0 International license. Images usually are published under a different license, so we advise you to use alternatives or contact us regarding permission. Here are our full terms for republication. You must credit the author, link to the original story, and name GIJN as the first publisher. For any queries or to send us a courtesy republication note, write to hello@gijn.org.

अगला पढ़ें

पतनशील लोकतंत्र में कैसे टिके पत्रकारिता? भारत और हंगरी के संपादकों ने बताए पाँच उपाय

भारत में मीडिया संगठनों पर मनी लॉन्ड्रिंग या टैक्स-चोरी जैसे आर्थिक अपराधों के आरोप लगाए जाते हैं। पहले पत्रकारों के खिलाफ मानहानि के आरोपों का इस्तेमाल किया जाता था। उस पारंपरिक न्यायिक रणनीति को बदलकर अब आर्थिक आरोप लगाने का प्रचलन बढ़ा है। अदालतों में धीमी कानूनी प्रक्रिया के कारण यह परेशानी ज्यादा बढ़ जाती है। पत्रकारों के उत्पीड़न का एक तरीका उनकी यात्रा पर प्रतिबंध लगाना है।

Invetigative Agenda for Climate Change Journalism

जलवायु समाचार और विश्लेषण

जलवायु परिवर्तन पत्रकारिता के लिए खोजी एजेंडा

दुनिया भर में हजारों पत्रकार जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभाव पर रिपोर्टिंग कर रहे हैं। ऐसी पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए कई नेटवर्क स्थापित किए गए हैं। ऐसी पत्रकारिता जनसामान्य को सूचित करने और जोड़ने के लिए महत्वपूर्ण है। यह सत्ता में बैठे उन लोगों को चुनौती देने के लिए भी जरूरी है, जो पर्यावरण संरक्षण की बात करते हैं, लेकिन वास्तव में पृथ्वी को जला रहे हैं। ऐसी सत्ता की जवाबदेही सुनिश्चित करना ही खोजी पत्रकारिता का मौलिक कार्य है।

टिपशीट

पत्रकार अपने स्मार्टफ़ोन से एक बेहतर फोटो कैसे ले सकते हैं

जेपीईजी फ़ाइलें अधिक पूर्ण चित्र बनाने के लिए फ़ोन की कम्प्यूटेशनल शक्ति का उपयोग करती हैं। प्रोरॉ फ़ाइलें तब तक उतनी बेहतर नहीं होंगी, जब तक कि आप उन पर काम न कर लें। वे सफेद के संतुलन और हाइलाइट्स पर बेहतर नियंत्रण प्रदान करती हैं। इनमें छाया और त्वचा टोन का अधिक गतिशील रेंज मिलता है।

Using Social Network Analysis for Investigations YouTube Image GIJC23

रिपोर्टिंग टूल्स और टिप्स

खोजी पत्रकारिता के लिए उपयोगी है ‘सोशल नेटवर्क एनालिसिस’

सोशल नेटवर्क एनालिसिस। यह कनेक्शन, पैटर्न और अनकही कहानियों की एक आकर्षक दुनिया है। पत्रकारों के टूलकिट में यह एक नई शक्तिशाली सुविधा जुड़ी है। यह हमारी दुनिया को आकार देने वाले रिश्तों के छिपे हुए जाल को उजागर करने में सक्षम बनाती है। यह केवल बिंदुओं को जोड़ने तक सीमित नहीं है। इससे सतह के नीचे मौजूद जटिल कहानियां भी उजागर हो सकती हैं।